Breaking News

गुर्जर आंदोलनकारियों ने अब यहां लगाया जाम, यात्रियों की बढ़ी परेशानी

By Outcome.c :11-02-2019 06:53


धौलपुर। 

आरक्षण की मांग को लेकर आज चौथे दिन भी गुर्जर रेलवे ट्रेक पर कब्जा जमाए हुए हैं। वहीं धौलपुर में कल हुई आगजनी की घटना के बाद आज फिर से गुर्जर समाज के लोगों ने स्टेट हाईवे पर जाम लगा दिया है। बाड़ी बसेड़ी बयाना स्टेट हाईवे पर भूतेश्वर मंदिर के पास पार्वती नदी के पुल पर गुर्जर समाज के लोगों ने जाम लगा दिया है। गुर्जर समाज के युवा यहां जमकर नारेबाजी कर रहे हैं। मौके पर पुलिस पहुंच गई है। डीएसपी रामनिवास सुंडा समाज के लोगों से समझाइश कर रहे हैं। स्टेट हाईवे पर वाहनों की लंबी कतार लग गई है। वाहनों में सवार यात्रियों को परेशानी उठानी पड़ रही है।

वहीं दूसरी ओर...
ट्रैक जाम होने के कारण आज लगातार चौथे दिन सवाई माधोपुर— बयाना रेलखंड में ट्रेनों का संचालन थमा हुआ है। ट्रेक बंद होने पर रेलवे प्रशासन ने आज करीब एक दर्जन से ज्यादा ट्रेनों का संचालन रद्द कर दिया वहीं आधा दर्जन से ज्यादा गाडिय़ों को परिवर्तित मार्ग से चलाया जा रहा है।

पुलिस प्रशासन एक्शन मोड पर
धौलपुर के आगरा-मुंबई राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 34 पर रविवार को हाईवे जाम के दौरान हुए पथराव, उपद्रव और आगजऩी की घटना के बाद पुलिस एक्शन मोड पर आ गई है। पथराव, हाइवे जाम की घटना को लेकर पुलिस ने 50 लोगों को नामजद किया है। साथ ही करीब 200 से अधिक लोगों के खिलाफ कोतवाली थाने पर मामला दर्ज कर लिया है।

कोतवाली थाना प्रभारी ने बताया कि थाने के एसआई रामनरेश की ओर से मामला दर्ज कराया गया है। इसमें पचास जनों की पहचान के बाद चिन्हित कर लिया गया है। इसके अलावा दर्ज मामले में पुलिस पर जानलेवा हमला करने, राजकाज में बाधा पहुंचाने, हाइवे पर जाम लगाने, सरकारी संपत्ति को नुकसान, नेशनल हाइवे की विभिन्न धाराओं के तहत मामले दर्ज किए गए है। इसी प्रकार मौरोली मोड़ अस्थायी पुलिस चौकी पर पथराव तथा जलाने के प्रयास का मामला दर्ज किया गया है। उपद्रव के बाद आंदोलनकारियों ने गुर्जर बाहुल्य इलाके में स्थित मौरोली मोड़ की अस्थायी पुलिस चौकी पर पथराव कर दिया। साथ ही आगजनी का प्रयास किया, लेकिन पुलिस ने उन्हें खदेड़ दिया और करीब आधा दर्जन लोगों को हिरासत में लिया है।

गुर्जर आंदोलन हिंसक, फूंके पुलिस वाहन
गौरतलब है कि गुर्जर आंदोलन भडक़ने के साथ ही प्रदेश के कई जिलों में फैलने लगा है। सवाईमाधोपुर के मलारना डूंगर से शुरू हुए इस आंदोलन के शांतिपूर्ण होने के दावे रविवार को धौलपुर में हुई हिंसा से खोखले साबित हो गए। धौलपुर के आगरा-मुंबई राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 34 पर जाम लगाकर बैठे आंदोलनकारियों ने पुलिस की बस, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक की कार और थाने की जीप को आग के हवाले कर दिया और हाईवे पर खड़े ट्रकों और बसों के शीशे फोड़ दिए।

Source:Agency

Rashifal