Breaking News

पैरालिसिस के लिए अपनाएं ये घरेलु तरीके, जल्द मिलेगा आराम

By Outcome.c :26-12-2018 09:03


लकवे की बीमारी बहुत ही खतरनाक होती है. इसमें इंसान चलना तो दूर बोल भी नहीं पाता. इसके लिए उसे बहुत ही परेशानी का सामना करना पड़ता है. इसमें व्यक्ति चलने-फिरने और अंग को महसूस करने की क्षमता खो देता है. इसके अलावा मुंह टेढ़ा हो जाता है और बोलने पर मुंह से आवाज भी नहीं निकलती. लेकिन इसका इलाज कुछ घरेलु तरीके से भी कर सकते हैं  जिनके बारे में हम आपको  बताने जा रहे हैं. इन टिप्स से आपको जड़ली ही इस बीमारी से राहत मिलेगी. 

लकवे में करें इन चीजों का करें सेवन:

* एक चम्मच काली मिर्च को पीसकर उसमें तीन चम्मच देसी घी में मिला लें. अब इन दोनों को अच्छी तरह मिलाकर लेप तैयार कर लें. इस लेप को लकवाग्रसित अंगों पर लगाकर मालिश करें. एेसा करने से लकवा ग्रस्त अंगों का रोग दूर हो जाएगा.

* अगर नियमित रूप से करेले की सब्जी या करेले का रस का सेवन किया जाए तो लकवा से प्रभावित अंगों में सुधार होने लगता है. 

* प्याज खाते रहने से और प्याज का रस का सेवन करते रहने से लकवा रोगी ठीक हो जाता है.

* 4-6 कली लहसुन को पीसकर उसमें एक चम्मच मक्खन मिला लें और रोज इसका सेवन करें. लकवा ठीक हो जाएगा.

* तुलसी के पत्ते, दही और सेंधा नमक को बराबर मात्रा में मिलाकर लेप तैयार कर लें. इस लेप को लकवाग्रसित अंगों पर लगाकर मालिश करें. एसा करने से लकवा ग्रस्त अंगों का रोग दूर हो जाएगा.

* गरम पानी में तुलसी के पत्तों को उबालें और उसका भाप लकवा ग्रस्ति अंगों को देते रहने से लकवा ठीक होने लगता है.
 

Source:Agency

Rashifal