Breaking News

सोलर संयंत्र लगाने चंडीगढ़ सरकार बांट रही सब्सिडी, मिलेगा दोहरा मुनाफा

By Outcome.c :12-10-2018 06:40


चंडीगढ़:  चंडीगढ़ प्रशासन के अंतर्गत आने वाले डिपार्टमेंट ऑफ़ साइंस एंड टेक्नोलॉजी ने चंडीगढ़ व आस पास के क्षेत्रों में सोलर एनर्जी को बढ़ावा देने के मकसद के साथ चंडीगढ़ रिन्यूअल एनर्जी एंड साइंस व टेक्नोलॉजी प्रमोशन सोसाइटी (सीआरईएसटी) का गठन किया हैं। जिसके अंतर्गत चंडीगढ़ सरकार आवासीय छतों को सौर ऊर्जा संयंत्र में तब्दील करने जा रही हैं। चंडीगढ़ सरकार की इस पहल के साथ सौर ऊर्जा संयंत्र की अग्रणी कंपनी ज़नरूफ़ भी आधिकारिक तौर पर जुड़ रही हैं। जनरूफ़ पिछले लंबे समय से देशभर के विभिन्न शहरों में घरों की छतों पर सोलर पैनल लगाने का काम कर रही हैं।  
चंडीगढ़ भारत का एक केंद्र शासित प्रदेश है जो हरियाणा और पंजाब की राजधानी भी है। चंडीगढ़ शहर पिछले कई सालों से सौर ऊर्जा के उत्पादन में सक्रिय भूमिका निभा रहा हैं। वर्ष 2016/17 में 9.40 मेगावॉट के साथ 16.20 मेगावाट सौर ऊर्जा का उत्पादन पहले ही किया जा चुका है। साल 2013 में चंडीगढ़ का नाम मॉडल सौर शहर के रूप में घोषित होने के बाद, प्रशासन सौर ऊर्जा के क्षेत्र में निजी  कंपनियों को भी आमंत्रित कर रहा है। चंडीगढ़ प्रशासन के इस कदम के तहत गुरुग्राम स्थित सोलर पैनल क्षेत्र की जानी मानी कंपनी ज़नरूफ़ भी सीआरईएसटी के साथ जुड़ गई हैं।
ज़नरूफ़ के फाउंडर प्राणेश चैधरी के अनुसार, “जनरूफ़ सीआरईएसटी के साथ आधिकारिक तौर पर जुड़ गया हैं। अब हम और अधिक लोगों को सोलर होने के लिए प्रेरित कर पाएंगे. चंडीगढ़ प्रशासन उपभोक्ताओं को आकर्षित व प्रेरित करने के लिए कैशबैक सब्सिडी भी मुहैया करा रही हैं. लोगों को तीस फीसदी की सब्सिडी दी जा रही हैं।“
चंडीगढ़ प्रशासन के अनुसार, सौर ऊर्जा संयंत्र के साथ जुड़ने वाले ग्राहकों के पास दोहरा फायदा उठाने का मौका हैं। आप अपने घर की छत, किसी खुली जगह या बिलिं्डग की दीवार पर सोलर संयंत्र लगा सस्ती बिजली का उत्पादन कर सकते हैं। सौर ऊर्जा उत्पादन के बाद आप अपनी आवश्यकता अनुसार बिजली खर्च कर अन्य ऊर्जा का व्यवसाय के रूप में भी उपयोग में ला सकते हैं।     
बिजली के आयात और निर्यात को पंजीकृत करने के लिए आपूर्ति लाइन में एक द्वि-दिशात्मक मीटर स्थापित किया गया है। नेट मीटरींग व्यवस्था, कैप्टिव पावर खपत के तत्वों और उपयोगिता के साथ बिजली के आदान-प्रदान को जोड़ने में सहायक की भूमिका निभाती है।

Source:Agency

Rashifal