Breaking News

गाड़ी चलाई किसी और ने, लाइसेंस वाहन मालिका का रद्द हो गया

By Outcome.c :11-10-2018 08:07


इंदौर । शहर के चौराहे पर लगे रेड लाइट वॉयलेशन डिटेक्शन सिस्टम (आरएलवीडी) के उल्लंघन करने के कारण पुलिस की सख्ती लोगों की परेशानी बन गई है। वाहनों के नियम तोड़ने के बाद सीधे मालिक का लाइसेंस निरस्त किया जा रहा है। इस कारण वे मालिक भी परेशान हो गए हैं, जिनकी गाड़ी घटना के समय कोई और चला रहा था। इस कारण आरटीओ में रोज विवाद हो रहे हैं।

नियम उल्लंघन पर ट्रैफिक पुलिस ने कुछ माह से सख्ती कर रखी है। दोपहिया पर तीन सवारी, शराब पीकर वाहन चालना, रेड लाइट जंप करना और तेज गति से वाहन चलाने वाले वाहन चालकों के लाइसेंस निलंबित या निरस्त किए जा रहे हैं। पुलिस कुछ माह में करीब तीन हजार वाहनों की जानकारी और लाइसेंस आरटीओ में भेज चुकी है। आरएलवीडी कैमरों की पकड़ में आए वाहन चालकों को भी आरटीओ ने नोटिस भेजा है। आरटीओ अधिकारियों ने बताया कि हम नोटिस में वाहन चालक को कहते हैं कि आपके वाहन ने रेड लाइट का उल्लंघन किया है। इसलिए आपका लाइसेंस तीन माह के लिए निलंबित किया जा रहा है। इसलिए आरटीओ में आकर अपना लाइसेंस जमा करवाना है।

मंगलवार को आरटीओ पहुंचे रामचंद्र अग्रवाल ने अधिकारियों से विवाद किया। उनका कहना था कि दोपहिया गाड़ी पत्नी चलाती है, लेकिन लाइसेंस मेरा निलंबित किया जा रहा है। अधिकारियों ने उसे समझाया भी कि आरएलवीडी के चालान में गाड़ी मालिक पर ही कार्रवाई होती है।

एक अन्य वाहन चालक ने इसे लेकर आपत्ति दर्ज करवाई है कि उसने अपनी गाड़ी बेच दी है। नाम ट्रांसफर की प्रक्रिया भी कर दी है, लेकिन ऑनलाइन रिकॉर्ड में गाड़ी अभी भी उनके नाम ही दिखा रही है। उनका लाइसेंस क्यों निरस्त किया जा रहा है। आरटीओ ने बताया कि हम लोग लाइसेंस निरस्त करने के पहले वाहन मालिक को पक्ष रखने का मौका देते हैं।

Source:Agency

Rashifal