Breaking News

J&K में आतंकियों का काल बने सुरक्षाबल, मुठभेड़ में गिराया आतंकी

By Outcome.c :14-09-2018 07:28


जम्मू/श्रीनगर । कश्मीर घाटी में सेना आतंकियों का चुन-चुन कर सफाया कर रही है। गुरुवार को कुपवाड़ा, सोपोर और जम्मू में सुरक्षाबलों ने आठ आतंकियों को मार गिराया।

कुपवाड़ा में घुसपैठ का प्रयास नाकाम, तीन आतंकी ढेर 
सेना के जवानों ने वीरवार को उत्तरी कश्मीर में एलओसी के साथ सटे केरन (कुपवाड़ा) सेक्टर में घुसपैठ का प्रयास नाकाम बनाते हुए तीन आतंकियों को मार गिराया। फिलहाल, उनके अन्य तीन साथियों के एलओसी पर छिपे होने की आशंका के चलते सेना के जवानों ने अपना तलाशी अभियान जारी रखा हुआ है। जानकारी के अनुसार, आज सुबह केरन सेक्टर के अंतर्गत एलओसी के अगले हिस्से में डटगली में गश्त कर रहे सेना की 3 जैक राइफल्स के जवानों ने घुसपैठियों के एक दल को भारतीय इलाके में देखा। जवानों ने तुरंत आस पास की चौकियों की सूचित किया और घुसपैठियों पर नजर रखी। यह इलाका बलीबीर पोस्ट के दायरे में आता है।

बताया जाता है कि घुसपैठियों की संख्या छह थी। जैसे ही यह लोग एलओसी पार कर भारतीय इलाके में दाखिल हुए, जवानों ने उन्हें ललकारते हुए आत्मसमर्पण करने को कहा। जवानों की ललकार सुनते ही घुसपैठियों ने वापस भागना चाहा। उन्होंने जवानों को अपने पीछे आने से रोकने के लिए गोली भी चलाई। जवान पहले से ही तैयार थे, उन्होंने गोलियां चला भाग रहे आतंकियों पर जवाबी फायर किया और उन्हें मुठभेड़ में उलझा लिया। यह मुठभेड़ सुबह 10.40 बजे शुरू हुई और करीब दो घंटे जारी रही।
संबंधित सैन्याधिकारियों ने बताया कि तीन घुसपैठिए मारे गए हैं, लेकिन तीन अन्य वापस भागने में कामयाब रहे हैं। उन्होंने बताया कि जिंदा बचे आतंकियों के दोबारा घुसपैठ करने या फिर उनके वहीं मुठभेड़ स्थल के अास पास छिपे होने की आशंका को देखते हुए पूरे इलाके में घेराबंदी करते हएु तलाशी अभियान को जारी रखा गया है। उन्होंने बताया कि मारे गए आतंकियों के शव एलओसी के अगले हिस्से में पाकिस्तानी सेना की सीधी फायरिंग रेंज में होने के कारण तत्काल कब्जे में नहीं लिए जा सके हैं। 

सोपोर में जैश के दो आतंकी मार गिराए 
उत्तरी कश्मीर के चिकीपोरा सोपोर में सुरक्षाबलों ने सात घंटे की भीषण मुठभेड़ में जैश ए मोहम्मद के अली अतहर समेत दो पाकिस्तानी आतंकियों को मार गिराया। अली अतहर ही वह आतंकी कमांडर है, जिसने छह जनवरी को सोपोर में हुई भीषण आईईडी विस्फोट की साजिश रची थी। इस धमाके में चार पुलिसकर्मी मारे गए थे। मुठभेड़ में आतंकियों की मौत के बाद सोपोर और उसके साथ सटे इलाकों में भड़की हिंसा और तनाव के मददेनजर प्रशासन ने सभी शिक्षण संस्थानों को बंद करने के अलावा श्रीनगर-बारामुला रेल सेवा को भी बंद कर दिया। लेकिन श्रीनगर-बनिहाल रेल सेवा बहाल रही।

Source:Agency

Rashifal