Breaking News

रुचि सोया के लिए अडानी ने लगाई 6 हजार करोड़ की बोली

By Outcome.c :13-06-2018 08:25


नई दिल्ली. अरबपति गौतम अडानी की ग्रुप कंपनी मंगलवार को Ruchi Soya के लिए सबसे ऊंची बिडर के तौर पर सामने आई है। घटनाक्रम की जानकारी रखने वाले सोर्सेस ने कहा कि बैंकरप्ट हो चुकी इडिबल ऑयल कंपनी रुचि सोया को खरीदने के लिए 6 हजार करोड़ रुपए की बोली लगाई है। उन्होंने कहा कि एक अन्य पात्र कंपनी बाबा Ramdev प्रवर्तित पतंजलि आयुर्वेद ने 5,700 करोड़ रुपए की बिड लगाई है।

पतंजलि के पास अभी है मौका

हालांकि पतंजलि के पास कथित स्विस चैलेंज मेथड के तहत हो रहे ऑक्शन के अंतर्गत इस ऑफर की बराबरी करने का अधिकार होगा। रुचि सोया के कमेटी ऑफ क्रेडिटर्स की एक मीटिंग में दोनों कंपनियों पतंजलि ग्रुप और अडानी विलमर द्वाला जमा की गई बिड्स खोली गईं। अडानी विलमर फॉर्च्यून ब्रांड के नाम से कुकिंग ऑयल बेचती है, जो देश का सबसे बड़ा इडिबल ऑयल ब्रांड है।

सीओसी ने रुचि सोया की अधिकतम एसेट वैल्यू हासिल करने के लिए स्विस चैलेंज मेथड को अपनाने का फैसला किया है। संपर्क करने पर हरिद्वार बेस्ड पतंजलि के स्पोक्सपर्सन ने बिड वैल्यू का खुलासा करने से इनकार कर दिया।

 प्रोसेस की निष्पक्षता पर उठे सवाल

हालांकि, उन्होंने अडानी विलमर की एडवाइजर के तौर पर काम कर रही लॉ फर्म सिरिल अमरचंद मंगलदास के इस्तीफे से संबंधित मीडिया रिपोर्ट्स का उल्लेख करते हुए प्रक्रिया की निष्पक्षता पर सवाल खड़े किए। लॉ फर्म रुचि सोया के रिजॉल्युशन प्रोफेशनल को भी परामर्श दे रही है।

पतंजलि के स्पोक्सपर्सन एस के तिजारावाला ने कहा, ‘हम आश्चर्यचकित हैं और इस संबंध में सीओसी से जानकारी मांगी है। हमने सिरिल अमरचंद मंगलदास के इस्तीफे के मुद्दे पर लेटर लिखा है।’

 रुचि सोया पर है 12 हजार करोड़ का कर्ज
लेंडर्स का रुचि सोया पर 12,000 करोड़ रुपए का कर्ज बकाया है। सूत्रों ने कहा कि लेंडर्स शरुआती बिड्स से संतुष्ट नहीं थे, जहां 4,300 करोड़ रुपए की बिड के साथ पतंजलि सबसे बड़ी बिडर थी। वहीं अडानी ने 3,300 करोड़ रुपए की बोली लगाई थी। स्विस चैलेंज मेथड के अंतर्गत अगर पतंजलि अडानी की 6,000 करोड़ रुपए की बिड के बराबर या उससे बड़ा ऑफर लाते हैं तो अडानी ग्रुप की कंपनी को एक और मौका मिलेगा। 

रुचि सोया के लिए ये कंपनियां थी होड़ में 
रुचि सोया को खरीदने के लिए पतंजलि और अडानी के अलावा इमामी एग्रोटेक और गोदरेज एग्रोवेट ने भी दिलचस्पी दिखाई थी। पतंजलि आयुर्वेद का इडिबल ऑयल की रिफाइनिंग और पैकेजिंग के लिए इंदौर की रुचि सोया के साथ पहले से टाई-अप है। साथ ही कंपनी कुकिंग ऑयल बिजनेस में विस्तार करना चाहती है।
 

Source:Agency

Rashifal