Breaking News

मां को पिटता देख मासूम बच्चों का दहला दिल, पिता के खिलाफ कराई शिकायत

By Outcome.c :16-05-2018 07:16


भोपाल। पिछले कई वर्षों से अपनी मां को पिता के हाथों पिटता देख रहे मासूम बच्चों का दिल मातृत्व दिवस के मौके पर दहल गया। उन्होंने हिम्मत करके मां को न्याय दिलाने के लिए चाइल्ड लाइन तक सूचना पहुंचा दी। इसके बाद बच्चों को चाइल्ड लाइन में बुलाया गया और जानकारी ली गई।

बच्चों को विशेष किशोर पुलिस ईकाई (एसजीपीयू) और बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) के सामने पेश किया गया। जहां चार बच्चों ने अपनी मां के साथ पिता द्वारा किए गए क्रूरता की कहानी को बयां किया। मामला गोविंदपुरा इलाके का है। जहां प्रायवेट नौकरी करने वाला आरोपित बबलू अहिरवार अपनी पत्नी को करीब 15 सालों से प्रताड़ित कर रहा है।

मां के साथ पिता ने इस कदर मारपीट की है कि शरीर पर जगह-जगह निशान बन गए हैं और घाव भी गहरे हैं। चाइल्ड लाइन व एसजीपीयू की टीम ने गौरवी के साथ मिलकर पिता के खिलाफ गोविंदपुरा थाने में मंगलवार को एफआईआर दर्ज कराई है, लेकिन आरोपित फरार हो गया। पुलिस आरोपित के तलाश में जुटी है। बुधवार को गौरवी बच्चों को सीडब्ल्यूसी के सामने पेश करेगी।

तीन बेटी व एक बेटा पहुंचे चाइल्ड लाइन

एक बेटा 13 साल और उसकी तीन छोटी बहनें रोते-सिसकते टीटीनगर स्थित चाइल्ड लाइन पहुंची। उन्होंने पिता के खिलाफ शिकायत की कि अक्सर उनके पिता मां को बेरहमी से मारते-पिटते हैं। साथ ही मां को कई दिनों तक कमरे में बंद रखता था। अक्सर मां के साथ पिता की पिटाई होता देखकर तीन दिन पहले एक बेटी घर से भाग गई। जब पुलिस ने बच्ची को घर पहुंचाया तो उसे पिता ने खूब पीटा। जिससे बच्चे परेशान होकर चाइल्ड लाइन पहुंच गए।

गौरवी में बच्चे व मां को पहुंचाया

गौरवी में मां ने अपने पति के खिलाफ सारी व्यथा सुनाई और कहा कि इतने साल से वह बच्चों के कारण चुप रही। शादी के 8 महीने बाद से ही पति मारपीट करता था। कभी चाकू से तो कभी कमरे में बंद कर देता था। घर में खाने के लिए खर्चे भी नहीं देता था। उसे पता नहीं कि उसका पति काम क्या करता है।

इनका कहना है

बच्चों ने हिम्मत बांधकर अपने पिता के खिलाफ शिकायत की है। बच्चे पिता के नहीं रहना चाहते हैं। जिसके खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया गया है - अर्चना सहाय, डायरेक्टर, चाइल्ड लाइन

Source:Agency

Rashifal