Breaking News

पर्रिकर ने अमेरिका से जारी किया वीडियो संदेश, कहा-'जल्द वापस आउंगा'

By Outcome.c :14-05-2018 05:17


नई दिल्ली: अमेरिका में इलाज कराने गए गोवा के मुख्यमंत्री और पूर्व रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर ने ट्विटर पर वीडिया संदेश जारी कर खुद के स्वास्थ्य में सुधार होने और जल्द ही भारत लौटने की बात कही है. वीडियो संदेश में पर्रिकर कह रहे हैं कि कुछ ही सप्ताह बाद वे स्वदेश लौट आएंगे. इस वीडियो संदेश के जरिए पर्रिकर 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के लिए पार्टी कार्यकर्ताओं को एकजुट होकर तैयारी में जुट जाने की बात कह रहे हैं. सीएम पर्रिकर कह रहे हैं, 'पिछले दो महीनों से मैं आप सभी के बीच नहीं हूं, क्योंकि मैं इलाज करा रहा हूं. मैं अगले कुछ हफ्तों में गोवा वापस लौट आऊंगा.'

वे कह रहे हैं कि तबियत खराब होने के चलते वे पार्टी कार्यकर्ताओं की बैठक में शामिल नहीं हो सके. वे पार्टी कार्यकर्ताओं से कह रहे हैं कि 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए वे तैयार हो जाएं. साथ ही कह रहे हैं कि इस देश को प्रधानमंत्री के पद पर नरेंद्र मोदी की जरूरत है, जिसे पूरा करने के लिए सबको एकजुट होना होगा.

मालूम हो कि गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर इलाज के लिए इसी साल 7 मार्च को अमेरिका रवाना हुए थे. पांच मार्च को उन्हें स्‍वास्‍थ्‍य खराब होने के चलते एक बार फिर मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया था. 

15 फरवरी को अग्नाशय से जुड़ी तकलीफ के बाद मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को मुंबई के लीलावती अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां इलाज के बाद 22 फरवरी को डिस्चार्ज कर दिया गया था और उसी दिन गोवा पहुंचकर उन्होंने गोवा विधानसभा का बजट पेश किया था. इलाज के लिए गोवा छोड़ने से पहले उन्होंने राज्य के कार्यभार को संभालने के लिए कैबिनेट सलाहकार समिति का गठन किया.

पर्रिकर की गैर मौजूदगी में तीन सदस्यीय दल प्रदेश का कार्यभार संभाल रहे हैं. गोवा के कला एवं संस्कृति मंत्री गोविंद गावड़े ने कहा था कि तीन सदस्यीय दल को पांच करोड़ रुपए के कार्य को मंजूरी देने की शक्ति होगी, जबकि प्रत्येक मंत्री के पास 50 लाख रुपए के कार्य ठेके को मंजूरी देने का अधिकार होगा.

पर्रिकर ने विदेश में इलाज के लिए 6 मार्च को राज्यपाल मृदुला सिन्हा को पत्र भी लिखा था. पत्र में उन्होंने गोवा और मुंबई के डॉक्टरों की ओर से उन्हें विशेष इलाज के लिए विदेश जाने की सलाह दिए जाने की जानकारी दी थी. इस दौरान उन्होंने कहा कि यहां न होने पर वह राज्य में मंत्री परिषद की बैठक की अध्यक्षता वीडियो कॉन्फ्रेंस या सर्क्युलेशन के जरिए करेंगे.

Source:Agency

Rashifal