Breaking News

बिल्डर से 150 करोड़ वसूलने कोर्ट पहुंचे महेंद्र सिंह धोनी

By Outcome.c :12-04-2018 07:03


भारतीय क्रिकेटर महेंद्र सिंह धोनी ने आम्रपाली ग्रुप से अपना 150 करोड़ रुपए बकाया लेने के लिए कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। इकोनॉमिक्स टाइम्स की रिपोर्ट के अनुसार, धोनी जब आम्रपाली ग्रुप के ब्रांड एम्बेसडर थे तो कई सालों तक उनका पैसा नहीं दिया गया। रहिति स्पोर्ट्स कंपनी ने दिल्ली हाई कोर्ट में आम्रपाली ग्रुप के खिलाफ बकाया रुपए वापसी के लिए अर्जी दाखिल की है। बता दें कि रहिति  स्पोर्ट्स वह कंपनी है जो कि धोनी, केएल राहुल, भुवनेश्वर कुमार और साउथ अफ्रिकाई खिलाड़ी फाफ डु प्लेसिस जैसे कई क्रिकेटर्स का मैंनेजमेंट संभालती है।

रिपोर्ट के अनुसार, रहिति स्पोर्ट्स के मैनेजिंग डायरेक्टर अरुण पांडे ने इस मामले में कहा कि आम्रपाली द्वारा ब्रांडिंग और मार्केटिंग एक्टिविटीज़ के लिए हमें पैसा नहीं दिया गया। कंपनी को आम्रपाली ग्रुप से करीब 200 करोड़ रुपए वापस लेना है। बता दें कि धोनी 6-7 साल तक आम्रपाली ग्रुप के ब्रांड एम्बेसडर रहे थे लेकिन साल 2016 में उन्होंने इस्तीफा दे दिया था। धोनी ने ब्रांड एम्बेसडर से इस्तीफा इसलिए दिया था कि क्योंकि आम्रपाली ग्रुप द्वारा कई हाउसिंग प्रोजेक्ट को समय पर पूरा नहीं किया गया और लोगों को समय पर उनके घर मुहैया नहीं कराए गए थे।
इसे लेकर सोशल मीडिया यूजर्स धोनी को काफी ट्रोल कर रहे थे। जिन लोगों ने आम्रपाली ग्रुप में घर खरीदने के लिए पैसा जमा करा रखा था वे धोनी को अपने ट्वीट्स में टैग कर कहते थे कि या तो क्रिकेटर बिल्डर से अलग हो जाएं या फिर उन्हें आश्वस्त कराया जाए की वे कार्य पूरा करके उन्हे घर दिलवा देंगे। वहीं साल 2011 में भारत ने जब वर्ल्ड कप जीता था तो आम्रपाली ग्रुप द्वारा टीम के प्रत्येक सदस्य को नोएडा एक्सटेंशन में आम्रपाली ड्रीम वैली प्रोजेक्ट के तहत एक-एक विला देने का ऐलान किया था। आम्रपाली ग्रुप की स्थितियों से परिचित लोगों का कहना है कि जिन विला की बात की गई थी न तो वे कभी बने और न ही क्रिकेटर्स को तोहफे में दिए गए।

Source:Agency

Rashifal