Breaking News

विवादों में घिरी जॉन अब्राहम की फिल्म 'परमाणु'

By Outcome.c :06-04-2018 08:25


बॉलिवुड के गलियारों में इन दिनों हर तरफ एक ही धमाका गूंज रहा है और वह धमाका है फिल्म 'परमाणु: द स्टोरी ऑफ पोखरण' के विवाद का। आलम यह है कि फिल्म के अभिनेता-सह-निर्माता जॉन अब्राहम और निर्माता प्रेरणा अरोड़ा के बीच जारी विवाद अब पुलिस तक पहुंच चुका है। हालांकि, कई दिनों से दोनों पक्षों की ओर से जारी आरोप-प्रत्यारोप के दौर के बीच जॉन ने भले ही फिल्म को 4 मई को रिलीज करने की घोषणा कर दी है, लेकिन उनकी राह आसान नहीं दिख रही है। ऐसा इसलिए, क्योंकि प्रेरणा की कंपनी क्रिअर्ज एंटरटेनमेंट ने जॉन और उनकी कंपनी जेए एंटरटेनमेंट के खिलाफ धोखाधड़ी, बेईमानी, विश्वासघात जैसे कई मामलों में मुंबई के खार पुलिस स्टेशन में लिखित शिकायत दर्ज करवाई है। दूसरे, विवाद के रूप में फूटे इस परमाणु बम से फिल्म पर भी नकारात्मक असर पड़ा है। देखा जाए, तो इस विवाद से दोनों पक्षों को भारी नुकसान होने वाला है, क्योंकि एक ओर जहां जॉन को पिछले 3 सालों से एक अच्छी फिल्म का इंतजार है, जो 'परमाणु' के जरिए पूरा हो सकता था। वहीं, पिछले दिनों फिल्म 'केदारनाथ' को लेकर भी ऐसे ही विवाद में फंसी प्रेरणा की कंपनी क्रिअर्ज एंटरटेनमेंट की विश्वसनीयता पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं। 
क्या था विवाद 

फिल्म 'परमाणु' को निर्माता प्रेरणा अरोड़ा और अभिनेता जॉन अब्राहम की कंपनी साझेदारी में बना रही थी। इनका विवाद तब सामने आया, जब जॉन की कंपनी जेए एंटरटेनमेंट ने फिल्म को लेकर क्रिअर्ज एंटरटेनमेंट के साथ हुए करार को तोड़ दिया और उनके सारे अधिकार खत्म कर दिए। दरअसल, इनके बीच पैसों को लेकर विवाद काफी समय से चल रहा था। जॉन का कहना है कि प्रेरणा की ओर से उन्हें समय पर पैसे नहीं मिले। जबकि क्रिअर्ज एंटरटेनमेंट का कहना है कि जॉन झूठ बोल रहे हैं। उन्हें पहले ही फिल्म के लिए 30 करोड़ रुपये दिए जा चुके हैं। उल्टे, उन्होंने गानों को लेकर उन्होंने अपने वादे पूरे नहीं किए हैं। इसीलिए, इस तरह करार रद्द किया जाना अवैध है। अब यह मामला पुलिस के पास पहुंच चुका है। 

प्रेरणा की डबल परेशानी ! 

जानकारों के मुताबिक, यह विवाद प्रेरणा और उनकी कंपनी क्रिअर्ज एंटरटेनमेंट के लिए ज्यादा नुकसानदेह है। एक तो नई प्रॉडक्शन कंपनी होने के कारण उनकी छवि पर असर पड़ेगा। दूसरे फिल्म में उनके पैसे फंसे होने के कारण आर्थिक नुकसान भी आएगा। ट्रेड एक्सपर्ट गिरीश जौहर कहते हैं, ‘नुकसान तो दोनों का ही है, लेकिन आर्थिक नुकसान क्रिअर्ज वालों का है। वे लगभग 30 करोड़ रुपए पहले ही फिल्म में लगा चुके हैं। ऐसे में यह अजीब है कि कोई पैसे लेकर फिल्म बना ले, फिर कह दे कि आप फिल्म का हिस्सा नहीं हैं। ऐसा कोई ऐसा कैसे कह सकता है? इसके भी कुछ नियम-कानून होते हैं। ऐसा भी नहीं है कि क्रिअर्ज वाले मना कर रहे हैं कि हम पैसे नहीं देना चाहते। वे 30 करोड़ लगा चुके हैं। बाकी, 3-4 करोड़ की बात है। इसलिए, उनके लिए यह बड़ा झटका है।’ 

वहीं वरिष्ठ फिल्म पत्रकार और समीक्षक भारती प्रधान के मुताबिक, यह विवाद क्रिअर्ज की छवि के लिए भी ठीक नहीं है। बकौल भारती, 'प्रेरणा अरोड़ा ने 'रुस्तम', 'टॉयलेट एक प्रेमकथा' और 'पैडमैन' के रूप में बहुत अच्छे विषयों वाली फिल्में बनाई हैं। इसलिए मैं थोड़ी हैरान हूं कि ऐसा कैसे हो गया। ऐसे विवाद उनकी रेप्युटेशन के लिए ठीक नहीं है, क्योंकि वह अभी नई हैं। फिर, पिछले दिनों फिल्म 'केदारनाथ' को लेकर भी ऐसा ही विवाद सामने आया था। तब निर्देशक अभिषेक कपूर ने भी बिल्कुल ऐसे ही आरोप प्रेरणा पर लगाए थे। यह उनके लिए अच्छा नहीं है, क्योंकि उनकी तीनों कामयाब फिल्में सिर्फ अक्षय कुमार के साथ आई हैं। ऐसा लगेगा कि अगर वह अक्षय कुमार के साथ फिल्म बना रही हैं, तो ही ठीक होगा। किसी दूसरे के साथ नहीं।' 

Source:Agency

Rashifal