Breaking News

सिरफिरा बोला - बिग्रेडियर हूं, आईजी को बुलाओ, वो ही पूछताछ करें

By Outcome.c :11-01-2018 07:54


भोपाल। हमीदिया अस्पताल रोड स्थित राजू टी स्टॉल के पास मंगलवार देर रात तलैया थाना प्रभारी समेत पुलिस कर्मियों से एक सिरफिरा उलझ गया। उसने टीआई से न केवल झूमाझटकी की, बल्कि सेना का बिग्रेडियर होने का झांसा देकर धमकाया भी। वह बार-बार आईजी को मौके पर बुलाने की मांग कर रहा था।

दरअसल पुलिस देर रात चेकिंग कर रही थी, तभी यहां अंधेरे में एक संदिग्ध नजर आया। उसे घर जाने के लिए बोला तो वह पुलिस से ही विवाद करने पर उतारू हो गया था। पुलिस उसको बार-बार समझती रही, लेकिन वह टीआई से झूमाझटकी करने लगा। पुलिस उसको लेकर थाने पहुंची। जहां परिजनों को बुलाकर पूछताछ की तो मानसिक बीमार निकला। बाद में पुलिस ने बिना कोई कार्रवाई के उसको जाने दिया।

तलैया टीआई मनीष भदौरिया के अनुसार देर रात फतेहगढ़ में पुलिस पेट्रोलिंग कर रही थी। तभी एयरोसिटी कॉलानी लालघाटी का रहने वाला 30 वर्षीय सौरभ ग्रेवाल सड़क पर खड़ा दिखाई दिया तो उसको घर जाने के लिए बोला, तो वह विवाद करने लगा। वह बार-बार अपने आप को सेना का बिग्रेडियर बोलकर धमकाने लगा। बोला कि सिविल का व्यक्ति नहीं हूं, अपने सीनियर अफसर को बुलाए। उनको ही मुझसे पूछताछ का अधिकार है। उसके बाद उसने झूमाझटकी शुरू कर दी। उसको काबू करने के बाद थाने लेकर आए।

आइएएस डीपी आहूजा को निलंबित कर दिया था

सौरव ग्रेवाल की मानसिक स्थिति का पता इसी लगाया जा सकता है कि मनोचिकित्सक डॉ. रूमा भट्टाचार्य के साथ ढाई साल पहले हुए आइएएस डीपी आहूजा के विवाद पर वह उनको को निलंबित करने की बातें करने लगा है। फिर बोला कि वह डाक्टर है और उसका एलबीएस अस्पताल के बगल में क्लीनिक है। फिर कहने लगा कि नहीं वह डाक्टर बन नहीं पाया था ।क्योंकि 11 वीं क्लास में वह चूहे का आपरेशन नहीं कर पाया था।

डेढ़ घंटे तक पुलिस हुई परेशान

एएसपी राजेश सिंह भदौरिया ने बताया कि सौरभ ग्रेवाल की इन हरकतों के कारण सारे काम छोड़कर डेढ़ घंटे तक पुलिस परेशान होती रही, आखिरकार उसकी बाइक से उसके घर पता मिलने के बाद उसके परिजनों को थाने बुलाया। उनके आने के बाद पता चला कि वह मानसिक रूप से बीमार है। उसके भाई पूर्व में खुदकुशी कर चुका है। परिजनों उसके बर्ताव के माफी मांगी । उसके बाद पुलिस ने उसको बिना कार्रवाई के जाने दिया।

Source:Agency

Rashifal