Breaking News

भारत में जीएसटी के तहत एक टैक्स व्यवस्था लागू नहीं होगी, जेटली की सफाई

By Outcome.c :03-01-2018 07:14


नई दिल्ली: भारत में जीएसटी के तहत 1 टैक्स व्यवस्था लागू नहीं होगी। जीएसटी के तहत कुछ विकसित अर्थव्यवस्था वाले देशों में लागू एक स्लैब कर जैसी संरचना को भारत में लागू नहीं किया जाएगा। सरकार ने मंगलवार को संसद को यह जानकारी दी। वित्तमंत्री अरुण जेटली ने प्रश्नकाल के दौरान राज्यसभा में कहा कि सभी वस्तुओं पर समान कर की दर लागू करने वाले देशों में ऐसे देश शामिल हैं, जहां पूरी आबादी गरीबी रेखा से ऊपर है।

उन्होंने कहा, 'भारत में, खाद्य पदार्थों को शून्य या न्यूनतम स्लैब में रखा गया है, जबकि लक्जरी वस्तुओं को अधिक कर लगाया गया है।' वित्त मंत्री ने हालांकि कहा कि जीएसटी के चार स्लैब दर ढांचे के भीतर वस्तुओं पर करों की दरों को तर्कसंगत बनाने की प्रक्रिया जारी रहेगी। भारत में जीसएटी के तहत 5, 12, 18 और 28 फीसदी के चार टैक्स स्लैब हैं। 

जीएसटी काउंसिल ने नवम्बर में 1,200 से अधिक वस्तुओं में से केवल 50 फीसदी वस्तुओं की ही 28 फीसदी से ज्यादा कर के अंतर्गत रखा है। जिन वस्तुओं पर 28 फीसदी कर लगाया गया है, वे लक्जरी वस्तुएं हैं या फिर सिगरेट-शराब जैसी वस्तुए हैं। जेटली ने राज्यसभा को यह भी बताया कि जीएसटी परिषद ने जीएसटी नेटवर्क के अध्यक्ष ए.बी. पांडे के संयोजन में एक समिति का गठन किया है, जो रिटर्न दाखिल करने से संबंधित मुद्दों पर विचार करेगी और अनुपालन भार कम करने पर सुझाव देगी। उन्होंने कहा, 'समिति जीएसटी में रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया में बदलाव की सिफारिश करेगी।'

Source:Agency

Rashifal